9 साल में पूरी नहीं हो सकी भर्ती:- माध्यमिक सेवा चयन बोर्ड ने 2011 में निकाली थी भर्ती

प्रदेशभर के सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में 900 से अधिक प्रधानाचार्यों की भर्ती नौ साल में पूरी नहीं हो सकी है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने नवंबर 2011 में यह भर्ती निकाली थी लेकिन कानूनी विवाद के कारण 10 मंडलों की चयन प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है। वहीं प्रधानाचार्य भर्ती 2013 के 599 पदों पर नियुक्ति मई 2021 से पहले पूरी होने की संभावना नहीं है।
2011 की भर्ती में मेरठ, मुरादाबाद, चित्रकूट, बस्ती, गोरखपुर, फैज़ाबाद मंडलों में साक्षात्कार के पूर्व 21 दिन की नोटिस पूरी नहीं होने के कारण परिणाम तैयार नहीं हो सका। चयन बोर्ड ने 6 मार्च को इन मंडलों का दोबारा साक्षात्कार कराने का निर्णय लिया था लेकिन कोरोना के चलते अब तक शुरू नहीं हो सका है। कानपुर मंडल के साक्षात्कार की अनुमति हाईकोर्ट ने दी है लेकिन वह भी नहीं हो पा रहा। झांसी, बरेली व देवीपाटन का परिणाम तैयार हो रहा है और जल्द घोषित होने की उम्मीद है। प्रधानाचार्य भर्ती 2013 का विज्ञापन चयन बोर्ड ने 31 दिसंबर 2013 को जारी किया था और अंतिम तिथि 25 फरवरी 2014 तक 25031 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। चयन बोर्ड यदि अगस्त में साक्षात्कार शुरूकरता है तो मई 2021 से पहले परिणाम घोषित करना संभव नहीं है।
Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | Primary ka master com 

9 साल में पूरी नहीं हो सकी भर्ती:- माध्यमिक सेवा चयन बोर्ड ने 2011 में निकाली थी भर्ती Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master