• Breaking News

    Shikshak : मदरसा के सौ शिक्षकों ने जमा किए दस्तावेज, अनामिका शुक्ला प्रकरण के बाद सभी शिक्षकों के प्रमाण पत्रों की हो रही जांच

    प्रयागराज : मदरसा के शिक्षकों के शैक्षिक अभिलेखों की जांच चल रही है। जांच शुरू हुए 10 दिन हो गए, लेकिन अब तक सौ शिक्षकों ने ही अपने दस्तावेज जमा किए हैं। अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने कहा कि निर्धारित समय से दस्तावेज उपलब्ध न कराने वाले शिक्षकों को फर्जी मानते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
    प्रदेश में पिछले दिनों कस्तूरबा विद्यालय में अनामिका शुक्ला के नाम जारी शैक्षिक प्रमाण पत्रों के आधार पर कई जिलों में महिलाएं शिक्षक के रूप में नौकरी करती मिली थीं। जिसके बाद विशेष सचिव अल्पसंख्यक कल्याण की तरफ से मदरसा आधुनिकीकरण योजना के तहत कार्यरत सभी अध्यापकों के शैक्षिक प्रमाण पत्रों का सत्यापन कराने के निर्देश दिए गए थे। जिलाधिकारी ने 17 जुलाई को अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व की अध्यक्षता में चार सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी थी। 15 दिनों के भीतर सत्यापन की रिपोर्ट देनी थी। अब तक 10 दिन बीत चुके हैं, लेकिन 146 मदरसे के 400 शिक्षकों में करीब सौ शिक्षकों ने ही अपने दस्तावेज मुहैया कराए हैं।

    जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी एसपी तिवारी ने बताया कि जांच के लिए 15 दिन का समय दिया गया था। सभी शिक्षक अपने शैक्षिक प्रमाण दे रहे हैं लेकिन कोरोना संक्रमण फैलने के चलते जांच में कुछ शिथिलता आई है। फिर भी निर्धारित अवधि तक जिनके प्रमाण पत्र नहीं आएंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।
    Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | Primary ka master com