UP Board : हाईस्कूल के अंकपत्र में देरी के आसार

प्रयागराज : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 का परिणाम घोषित हुए एक माह पूरा हो गया है। लेकिन, परीक्षार्थियों को अब तक अंक पत्र हासिल नहीं हो पा रहा है। यह जरूर है कि डिजिटल अंकपत्र जरूर वितरित किया जा रहा है। जिलों में सभी परीक्षार्थियों को वितरित करने में देरी की वजह कोरोना संकट है। हाईस्कूल का अंकपत्र इस माह के अंत तक क्षेत्रीय कार्यालयों में पहुंचने की उम्मीद थी लेकिन कागज की कमी से देरी होने का अंदेशा है।
उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने 27 जून को हाईस्कूल व इंटर का परिणाम घोषित किया था, उसी दिन यह भी ऐलान हुआ था कि इंटर का अंकपत्र 15 और हाईस्कूल का 31 जुलाई से वितरित किया जाएगा। इस बीच छात्र-छात्रओं की सहूलियत के लिए डिजिटल अंकपत्र देने के निर्देश हुए थे। जैसे-तैसे इंटर का अंकपत्र प्रयागराज क्षेत्रीय कार्यालय कुछ दिन पहुंच गया है लेकिन उसका वितरण अभी जिलों में शुरू नहीं हो सका है।

वहीं, प्रिंटिंग संस्थाओं ने हाईस्कूल के अंकपत्र में देरी होने का संकेत बोर्ड का भेजा है। संस्थाओं का कहना है कि हाईस्कूल के परीक्षार्थियों की संख्या अधिक है, उस अनुपात में कागज नहीं मिल पा रहा है। अफसरों का कहना है कि 10 अगस्त तक अंकपत्र क्षेत्रीय कार्यालयों तक पहुंच सकते हैं, बोर्ड के अफसर यह समय कम करने पर जोर दे रहे हैं लेकिन छपाई का कार्य बाधित है। सचिव दिव्यकांत शुक्ल का कहना है कि पूरा प्रयास हो रहा है कि जिलों में दोनों अंक पत्रों का वितरण कराया जाए। इंटर की प्रक्रिया शुरू हो रही है ऐसे ही हाईस्कूल का अंकपत्र भी मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि डिजिटल अंकपत्र से प्रवेश आदि में दिक्कत नहीं आ रही है।
Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | Primary ka master com 

UP Board : हाईस्कूल के अंकपत्र में देरी के आसार Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master