• Breaking News

    कोरोना कहर के चलते महज 44.18 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने दी खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) की परीक्षा

    UPPSC BEO 2019 Pre Exam उत्तर प्रदेश के 18 जिलों में 1127 केंद्रों पर हुई परीक्षा में 233393 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए जबकि 294921 अनुपस्थित रहे।
    प्रयागराज ::  कोरोना वायरस के संक्रमण की भयावह स्थिति के बीच कराई गई उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) प्रारंभिक परीक्षा-2019 में 44.18 प्रतिशत अभ्यर्थी शामिल हुए। रविवार को प्रदेश के 18 जिलों में 1127 केंद्रों पर दोपहर 12 से दो बजे तक परीक्षा आयोजित हुई। प्रदेशभर में 2,33,393 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए, जबकि 2,94,921 अनुपस्थित रहे। प्रयागराज में 106 केंद्रों पर परीक्षा कराई गई। यहां 48,900 अभ्यर्थियों को परीक्षा में शामिल होना था। लेकिन, 25,773 उपस्थित हुए, जबकि 23,127 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। प्रयागराज में अभ्यर्थियों की उपस्थिति 52.71 प्रतिशत रही। परीक्षा के दौरान कहीं से नकल, पेपर लीक, हंगामा होने जैसा मामला सामने नहीं आया।


    उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने 12 दिसंबर 2019 को खंड शिक्षा अधिकारी की 309 पदों की भर्ती निकाली थी। अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन 13 जनवरी तक लिया गया। इसमें 5,28,314 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। परीक्षा में सिर्फ बीएड डिग्री धारक ही शामिल हुए। नकलमुक्त परीक्षा कराने के लिए आयोग ने काफी कड़ाई की थी। परीक्षा केंद्रों के अंदर व बाहर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी कराई गई। केंद्र के आस-पास मोबाइल की नेटवर्किंग ध्वस्त करने के लिए जैमर लगाया गया। परीक्षा केंद्रों के आस-पास परिजनों को रुकने की अनुमति नहीं थी। केंद्रों पर अधिकारियों की आवाजाही निरंतर बनी रही।


    15 मिनट बाद तक मिला प्रवेश : कोरोना संक्रमण व साप्ताहिक बंदी की वजह से अभ्यर्थियों को परीक्षा शुरू होने के 15 मिनट बाद तक प्रवेश दिया गया। परीक्षा कक्ष में एक घंटा पहले से प्रवेश दिया जाने लगा। हर केंद्र पर सेनिटाइजेशन कराकर अभ्यर्थी को मास्क लगाकर परीक्षा दिलाई गई।