• Breaking News

    Basic Shiksha : ब्लॉक में न्यूनतम सुविधाएं न होने पर बीएसए से मांगा गया स्पष्टीकरण

    ब्लॉक में न्यूनतम सुविधाएं न होने पर बीएसए से मांगा गया स्पष्टीकरण
    अब खण्ड शिक्षा अधिकारियों के कार्यालयों में न्यूनतम सभी सुविधाएं व मानव संसाधन उपलब्ध रहेंगे। जहां भी न्यूनतम मानकों से कम लोग काम कर रहे हैं या सामान नहीं हैं। वहां तुरंत इसे पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक विजय किरन आनंद ने निर्देश जारी कर दिए हैं। जिन 208 कार्यालयों में
    एक भी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी व 12 ऐसे कार्यालय जहां एक भी कम्प्यूटर नहीं है, वहां के अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब करते हुए दण्डात्मक कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई है। प्रदेश के 880 ब्लॉकों में प्रति ब्लॉक क खण्ड शिक्षा अधिकारी, एक सहायक लेखाकार, एक कम्प्यूटर ऑपरेटर, 3 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, तीन कम्प्यूटर और एक वाहन का मानक है लेकिन प्रदेश में एक भी ऐसा कार्यालय नहीं है जहां सारे मानक पूरे हों। 880 ब्लॉकों में 135 लेखाकार और 128 कम्प्यूटर ऑपरेटर के पद रिक्त हैं। इन्हें सेवा प्रदाता कम्पनी के माध्यम से भरने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं सभी कार्यालयों में 3 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी सम्बद्ध करने का नियम है। अभी केवल 317 ऐसे हैं जहां 3 कर्मचारी हैं। 168 कार्यालयों में 2 और 187 ऐसे हैं जहां एक ही कर्मचारी है। इसके अलावा 208 ऐसे कार्यालय हैं, जहां एक भी कर्मचारी नहीं है। जिन 208 कार्यालयों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं है वहां के अधिकारियों को 3 दिन में स्पष्टीकरण मांगा गया है। वहीं ऐसे 238 ब्लॉक हैं जहां एक भी वाहन नहीं है। इसकी रिपोर्ट भी तलब की गई है। इसके अलावा निष्ठा कार्यक्रम के तहत 2019-20 में हर कार्यालय को 3 कम्प्यूटर खरीदने थे लेकिन 200 ऐसे ब्लॉक हैं जहां 2, एक या एक भी कम्प्यूटर नहीं है। ऐसे ब्लॉकों से भी स्पष्टीकरण मांगा गया है। 7 अगस्त तक सभी खण्ड शिक्षा कार्यालयों में ये सुविधाएं उपलब्ध करानी हैं।
    Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | uptet help