• Breaking News

    BEO : खंड शिक्षा अधिकारी-2019 प्रारंभिक परीक्षा मामले में आज सुनवाई संभव

    प्रयागराज : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ)-2019 की प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी में जुटा है। वहीं, दूसरी ओर प्रतियोगी छात्र परीक्षा स्थगित कराने के लिए हर स्तर पर प्रयास कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति का हवाला देकर प्रतियोगी परीक्षा टालने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेज चुके हैं। भाजपा सांसद वरुण गांधी से भी मुख्यमंत्री को पत्र भेजवाया है। सोशल मीडिया में लगातार आयोग के खिलाफ
    अभियान चला रहे हैं। जब उससे परीक्षा नहीं टली तो इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर दिया है। याचिका पर गुरुवार को सुनवाई होने की संभावना है। उप्र लोकसेवा आयोग ने खंड शिक्षा अधिकारी-2019 के तहत 309 पदों की भर्ती निकाली है। इसमें पांच लाख 28 हजार से अधिक आवेदन हुए हैं। इसकी प्रारंभिक परीक्षा 16 अगस्त को प्रदेश के 18 जिलों में 1127 केंद्रों पर होनी है। हर केंद्र में पेपर पहुंचाने का काम पूरा हो गया है। ओएमआर शीट पहुंचाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। प्रवेश पत्र सप्ताहभर पहले जारी कर दिया गया था। अब हर किसी की नजर कोर्ट के आदेश पर टिकी है, क्योंकि उसी के अनुरूप आगे की प्रक्रिया अपनायी जाएगी।