• Breaking News

    उत्तर प्रदेश में नवाचार से बदलेगी बेसिक शिक्षा की तस्वीर


    लखनऊ। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि परिषदीय स्कूलों में बच्चों को रुचिकर तरीके से पढ़ाने के लिए नबाचारों का प्रयोग किया जा रहा है, स्कूलों  में अवस्थापना सुविधाएं और पढ़ाई की गुणवत्ता बढ़ाने के से जल्द ही बेसिक शिक्षा की नई तस्वीर सामने आएगी।
    डॉ. द्विवेदी ने बुधवार को यहां राज्य शैक्षिक तकनीकी संस्थान के सभागार में अध्यापकों के अनुभ भवों पर आधारित पुस्तक 'उम्मीद के रंग' और एचसीएल के सहयोग से तैयार शार्ट रीड बेहतरीन प्रिंट रिच मैटेरियल का विमोचन किया। डॉ. द्विबेदी ने कहा कि बच्चों को चित्रों के माध्यम से पढ़ाने का भी प्रयास किया जा रहा है ताकि उन्हें कक्षाओं में पढ़ाया गया अच्छी तरह समझ आए। 'उम्मीद के रंग' पुस्तक ऐसे शिक्षकों के अनुभवों को दुनिया तक पहुंचाने का प्रयास है। बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ. सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने बताया कि इस पुस्तक से विद्यार्थियों की सीखने और समझने की क्षमता विकसित होगी। राज्य शैक्षिक तकनीकी संस्थान की निदेशक ललिता प्रदीप ने कहा कि प्रदेश में जल्द ही एचसीएल के सहयोग से मुक्त शिक्षण सामग्री केंद्र की स्थापना की जाएगी। इस अवसर पर एचसीएल को कोर्ति करमचंदानी, योगेश कुमार, दत्तात्रेय गोखले भी उपस्थित थे।