• Breaking News

    Online Classes : ऑनलाइन क्लास को बच्चों की हरी झंडी, माध्यमिक शिक्षा विभाग ने कराया सर्वे

    लखनऊ : कोरोना काल में चल रही ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था का माध्यमिक शिक्षा विभाग ने सर्वे कराया। इसमें राजधानी में यूपी बोर्ड, सीबीएसई और आइसीएसई से संचालित निजी विद्यालयों के कक्षा नौ से 12 तक के करीब 70 हजार विद्यार्थियों ने पहले फेस में प्रतिभाग किया। इनमें 90 फीसद बच्चों ने इस व्यवस्था को हरी झंडी दे दी। यह जानकारी डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने दी।
    बच्चों ने दिए ये सुझाव

    शिक्षकों को नॉर्मल बोर्ड के स्थान पर स्मार्ट बोर्ड का प्रयोग करना चाहिए, नेटवर्क की समस्या दूर की जाए, भौतिक विज्ञान और गणित के कांसेप्ट स्लाइड द्वारा प्रदर्शित किए जाए, साप्ताहिक टेस्ट लिया जाए, सरकार वाईफाई की व्यवस्था मुफ्त करे, बच्चों को इंग्लिश के साथ हंिदूी में भी समझाया जाए, वीडियो कांफ्रेंसिंग की जानी चाहिए, कक्षाओं में महामारी का एक टॉपिक होना चाहिए, क्लास का समय 11 से दोपहर एक बजे तक रखा जाए।

    सर्वे में 70 हजार विद्यार्थी हुए शामिल : राजधानी में यूपी बोर्ड से संचालित विद्यालयों में कक्षा नौ से 12 तक करीब दो लाख विद्यार्थी हैं। वहीं, आइसीएसई और सीबीएसई से संचालित विद्यालयों में करीब एक लाख है। सर्वे के मुताबिक, 81 फीसद विद्यार्थी टीवी के माध्यम से संचालित कक्षाओं से पढ़ाई कर रहे हैं। इसमें सबसे अधिक यूपी बोर्ड से संचालित राजकीय, एडेड और कुछ निजी विद्यालयों के विद्यार्थी हैं। जबकि, सर्वे में जो 70 हजार विद्यार्थी शामिल हुए हैं, वे अधिकतर निजी विद्यालयों के हैं।