भेड़ चाल से मुक्त करेगी नई शिक्षा नीति, वीडियो कांफ्रेंसिंग से कुलपतियों व शिक्षाविदों को PM मोदी ने किया संबोधित

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई शिक्षा नीति को नए भारत के निर्माण की आधारशिला बताते हुए कहा कि इससे समाज को भेड़ चाल से मुक्ति भी मिलेगी। वैसे भी हमारी शिक्षा व्यवस्था सालों से एक पुराने र्ढे पर ही चल रही है, जिसके कारण नई सोच, नई ऊर्जा को बढ़ावा नहीं मिल पा रहा था।
कभी डॉक्टर बनाने की होड़ लगी तो कभी इंजीनियर और वकील बनाने की। यह सब रुचि, योग्यता और जरूरत का आकलन किए बगैर ही सभी को एक ओर झोंकने के रूप में किया जा रहा था। शिक्षा को इस प्रवृत्ति से बाहर निकालना जरूरी था। नई नीति को लेकर पीएम शुक्रवार को सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों, शिक्षाविदों और उच्च शिक्षण संस्थानों के निदेशकों को संबोधित कर रहे थे। नीति के अमल पर उन्होंने स्पष्ट कहा कि इसको लेकर किसी तरह की आशंका की आवश्यकता नहीं है। प्रधानमंत्री की यह प्रतिबद्धता इसलिए भी अहम है, क्योंकि इससे पहले जो भी शिक्षा नीति बनी, उसके अमल में काफी लेटलतीफी हुई। 1986 में जो नीति आई थी, उसके ज्यादातर मसौदे को 1992 में लागू किया गया।

भेड़ चाल से मुक्त करेगी नई शिक्षा नीति, वीडियो कांफ्रेंसिंग से कुलपतियों व शिक्षाविदों को PM मोदी ने किया संबोधित Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master