• Breaking News

    Primary Ka Master : प्रदेश के 30 हजार प्राथमिक स्कूलों में न्यूट्रीशन गार्डन: इसके लिए स्कूलों को मिलेंगे 5-5 हजार रूपये

    प्रदेश के 30 हजार परिषदीय स्कूलों में न्यूट्रीशन गार्डन: स्कूलों में 5-5 हजार से बनाएंगे न्यूट्रीशन गार्डन
    बेसिक शिक्षा परिषद के 30 हजार स्कूलों में न्यूट्रीशन गार्डन बनाए जाएंगे। इसके लिए प्रदेश भर में प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक स्कूलों की पहचान की गई है। इसके लिए प्रत्येक स्कूल को पांच-पांच हजार रुपये दिए जाएंगे। इसका मकसद बच्चों को मिड-डे मील में ताजी और पौष्टिक सब्जियां उपलब्ध कराना है। मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण के प्रस्ताव पर केंद्र सरकार ने 15 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है।
    योजना
    मिड-डे-मील योजना के तहत ताजी सब्जियां उपलब्ध होंगी पिछले साल आया था किचेन गार्डन बनाने का आदेश
    न्यूट्रीशन गार्डन से बच्चों को लाभ होगा। इससे उन्हें खाने में हरी, ताजी और पौष्टिक सब्जियां मिल सकेंगी। जिले में 400 स्कूलों को इसके लिए चुना गया है।

    स्कूलों में पिछले साल ही किचेन गार्डन विकिसत करने के निर्देश दिए गए थे शिक्षकों ने अपने संसाधन से बागवानी शुरू की थी। कई स्कूलों ने अच्छा काम किया। इसी क्रम में इस साल ऐसे स्कूल चिह्नित किए गए हैं जिनमें बाउंड्री, पानी और गार्डेन के लिए पर्याप्त स्थान हो। मिड-डे-मील के जिला समन्वयक राजीव त्रिपाठी बताया कि जिले में 400 स्कूल चिह्नित कर इसकी सूचना मध्यान्ह भोजन प्राधिकरण को भेजी जा चुकी है।

    इसके अलावा प्रशासन ने भी सभी संबंधित अधिकारियों व शिक्षकों को जानकारी दे दी है। बजट मिलने के साथ ही न्यूट्रीशन गार्डन विकसित करने का काम शुरू हो जाएगा। इसमें कृषि, पंचायत एवं अन्य विभागों से भी सहयोग लिया जाएगा।