• Breaking News

    PRIMARY KA MASTER : बेसिक शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों की मांगों पर कही ये बड़ी बात

    प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए उनका निराकरण कराया जायेगा। शिक्षा की व्यवस्था को बेहतर बनाये जाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।
    लखनऊ: प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए उनका निराकरण कराया जायेगा। शिक्षा की व्यवस्था को बेहतर बनाये जाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।

    ग्रामीण क्षेत्र के विद्यालयों में मूलभूत सुविधाओं, ब्लैक-बोर्ड, बालक-बालिका के लिए शौचालय, स्वच्छ पेयजल सुविधा, फर्नीचर, विद्युतीकरण, चारदीवारी आदिकार्य ‘आॅपरेशन कायाकल्प’ योजनान्तर्गत प्राथमिकता के आधार पर कराया जा रहा है। इसी प्रकार नगर क्षेत्र के विद्यालयों को भी मूलभूत सुविधाओं से संतृप्त कराया जा रहा है।
    डा. द्विवेदी ने सोमवार को बेसिक शिक्षा निदेशालय, निशातगंज स्थित सभाकक्ष में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों व विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान कही कहा कि सभी विद्यालयों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की व्यवस्था, चिकित्सा सुविधा, शिक्षकों के अवकाश सुविधा, विद्यालयों में मूलभूत सुविधाओं के विकास, शिक्षकों की वेतन विसंगति को दूर कराये जाने, शिक्षकों के अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण आदि के सम्बन्ध में बेहतर व्यवस्था बनाये जाने के लिए सतत् प्रयास करते हुए कार्यवाही करायी जा रही है।

    बच्चों को बेहतर ढंग से शिक्षा प्रदान की जाये
    उन्होंने शिक्षकों से कहा कि विद्यालयों में अध्ययनरत् बच्चों को बेहतर ढंग से शिक्षा प्रदान की जाये, इसका विशेष ध्यान रखें।
    बैठक में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों द्वारा पहली अप्रैल, 2005 से पूर्व लागू पुरानी पेन्शन व्यवस्था बहाल किये जाने, अध्यापकों की पदोन्नति, विद्यालयों में मूलभूत सुविधा, विद्यालय में लिपिक तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नियुक्ति, प्रेरणा एप प्रणाली, विद्यालयों का संविलियन, शिक्षकों का अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण, वेतन विसंगति, एसीपी और कैशलेस चिकित्सा सुविधा, अध्यापकों के अवकाश, आवासीय सुविधा सहित अन्य बिन्दुओं का मांग -पत्र प्रस्तुत किया गया। बेसिक शिक्षा मंत्री ने सभी मांगों पर शिक्षक नेताओं के साथ विस्तार में चर्चा करते हुए उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।