• Breaking News

    Primary Ka Master : रोस्टर से कोरोना सर्वे में लगेगी बेसिक शिक्षकों की ड्यूटी


    कोरोना संक्रमण से शिक्षिका की मौत के बाद शिक्षकों संगठनों ने रोष जाहिर करते हुए शिक्षकों की ड्यूटी रोस्टर के हिसाब से लगाने व कोरोना सर्वे में लगे बीमार शिक्षकों को हटाए जाने की मांग की है। वहीं, बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह कोरोना सर्वे में गर्भवती व बीमार शिक्षकों की ड्यूटी न लगाए। साथ ही शिक्षकों की सूची उपलब्ध कराए ताकि रोस्टर के हिसाब से उनकी ड्यूटी लगाई जा सकें। बीएसए ने बताया कि मृतक
    शिक्षिका की ड्यूटी कोरोना सर्वे में नहीं लगाई गई थी। हिन्दुस्तान अखबार में खबर प्रकाशित होने के बाद बीएसए ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं कि वह बीमार, बुजुर्ग व गर्भवती शिक्षिकाओं की ड्यूटी कोरोना सर्वे में न लगाए। इसके अलावा जो शिक्षक काफी समय से सर्वे में लगे हैं। उनकी जगह दूसरे शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाए। बीएसए दिनेश कुमार ने बताया कि शिक्षकों की ड्यूटी रोस्टर के हिसाब से लगाई जाएगी। प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलामंत्री वीरेंद्र सिंह का कहना है कि एक शिक्षिका कोरोना से अपनी जान गवां चुकी है जबकि कई संक्रमित हैं।