• Breaking News

    Teachers Bharti : माध्यमिक स्कूलों के लिए 50% योग्य शिक्षक भी नहीं मिले, खाली रह जाएंगे आधे पद

    लखनऊ। प्रदेश के माध्यमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक भर्ती के लिए यूपी लोक सेवा आयोग को योग्य अभ्यर्थी भी नहीं मिल रहे हैं। आयोग की वर्ष 2018 में निकाली गई 10,768 पदों की भर्तियों में से अब तक 7480 पदों पर चयन प्रक्रिया पूरी हुई है। इसके लिए मात्र 3457 अभ्यर्थी ही योग्य मिले हैं। यानी आधे पद खाली रह जाएंगे। प्रदेश के 2285 राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में 10,768 पदों पर सहायक अध्यापक भर्ती के लिए 15 मार्च 2018 को विज्ञापन जारी किया गया था। आयोग के अधिकारी ने बताया कि राजकीय छात्र इंटर कॉलेजों के लिए 15 विषयों में 5,364 भर्तियां निकाली गई थीं। इनमें से सामाजिक विज्ञान के 926, गृह विज्ञान के एक और हिन्दी के 696 पदों पर चयन प्रक्रिया अभी पूरी नहीं हुई है। शेष 12 विषयों के 3741 पदों पर 1798 अभ्यर्थी ही योग्य मिले हैं। राजकीय छात्रा इंटर कॉलेजों के लिए 14 विषयों में 5404 भर्तियां निकाली गई थीं। इनमें से हिन्दी के 737 और सामाजिक विज्ञान के 928 पर्दों का परिणाम घोषित नहीं किया गया है। शेष 12 विषयों के 3739 पर्दों पर 1659 अभ्यर्थियों ही चयनित हो सके हैं। आयोग के सूत्रों के मुताबिक माह के अंत तक शेष विषयों की चयन सूची भी विभाग को भेज दी जाएगी।
    कम्प्यूटर शिक्षक के 1673 पदों के लिए सिर्फ 7 का चयन 
    सूचना प्रौद्योगिकी के युग में विद्यार्थियों को कम्प्यूटर में दक्ष करने के लिए सरकार ने राजकीय छात्र इंटर कॉलेजों के लिए कम्प्यूटर शिक्षक के 898 पदों पर भर्ती निकाली थी, लेकिन महज 6 अभ्यर्थी ही चयमित हुए हैं। वहीं छात्रा इंटर कॉलेजों के 775 पदों पर मात्र एक अभ्यर्थी का ही चयन हुआ है।

    गणित व विज्ञान में भी नहीं मिले योग्य अभ्यर्थी 
    राजकीय छात्रा इंटर कॉलेजों में गणित के 474 पदों पर केवल 32 और विज्ञान के 474 पदों पर 4 योग्य अभ्यर्थी मिले। छात्र इंटर कॉलेजों में भी विज्ञान के 571 पदों पर केवल 62 योग्य अभ्यर्थी मिले हैं।