UP B.ED 2020 : यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा कल, परीक्षा सेंटर जाने से पहले पढ़ लें ये 10 सबसे जरूरी बातें

UP B.Ed Entrance Exam 2020 : कोरोना काल के बीच कल उत्तर प्रदेश में विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर बीएड प्रवेश परीक्षा का आयोजन होने जा रहा है। प्रदेश भर में 14 नोडल सेंटर, चार उपनोडल सेंटर बनाए गए हैं। परीक्षा के लिए प्रदेश के 73 जनपदों में 1089 परीक्षा केन्द्रों बनाए गए हैं। इसमें 431904 अभ्यर्गी शामिल होंगे। परीक्षा दो पालियों में होगी। प्रथम पाली में सुबह 9 बजे से 12 बजे तक व दूसरी पाली दोपहर में 2 बजे से 5 तक परीक्षा होगी। नकल रोकने के लिए हर केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जो ऑडियो रिकॉर्डिंग भी करेंगे। परीक्षा की वेब-कास्टिंग की जाएगी। इसकी मॉनिटरिंग के लिए लविवि में 100 लैपटॉप युक्त एक कंट्रोल रूम बनाया गया है। परीक्षा केंद्र के लिए निकलने से पहले पढ़ लें ये 10 खास बातें - 
1. एडमिट कार्ड जरूर लाएं 
अभ्यर्थी प्रवेश पत्र की दो कॉपियां प्रिंट कर लें और आवेदन पत्र में अभ्यर्थी ने जिस फोटो को अपलोड किया है, वही फोटो प्रवेश पत्र के प्रिन्ट आउट में तय स्थान पर चिपकाएं। साथ ही तय स्थान पर अपना एवं अपने पिता/संरक्षक का हस्ताक्षर करवायें। अभ्यर्थी निर्धारित स्थान पर
अपनी दोनों तर्जन (इनडेक्स फिंगर) का निशान लगाएं। प्रवेश पत्र की दो प्रतियां परीक्षा केंद्र लानी हैं। एक परीक्षा कक्ष में कक्ष निरीक्षक महोदय को देनी हैं। 
2. तय समय से 1 घंटा पहले रिपोर्ट करें
सभी अभ्यर्थियों को एक घंटा पहले परीक्षा केन्द्र पर रिपोर्ट करना होगा। 1 घंटा पहले पहुंचने से उम्मीदवारों को आसानी से सोशल डिस्टेंसिंग के साथ प्रवेश मिल सकेगा। सभी अभ्यर्थियों के लिए मास्क अनिवार्य किया गया है। सेनिटाइजेशन का सामान, पीने का पानी, खाने का सामान भी अपना लाएं।
3. रविवार को लॉकडाउन, लेकिन बीएड वालों को मिलेगी पूरी छूट
बीएड अभ्यर्थियों को सप्ताहिक लॉकडाउन से परेशान होने की जरूरत नहीं है। उत्तर प्रदेश सरकार ने आदेश जारी कहा है कि अभ्यर्थियों को आने-जाने की पूरी छूट मिलेगी। इसके लिए प्रवेश पत्र दिखाना होगा। छात्रों को असुविधा न हो इसके लिए सभी सार्वजनिक निजी यातायात जैसे टेंपो,  टैक्सी, ओला, उबर, प्राइवेट व सरकारी बसें 08 व 09 अगस्त को चलाने की अनुमति दी गई है। 
4. कोविड-19 से बचाव के पूरे इंतजाम
कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए परीक्षा केंद्रों पर पूरे बंदोबस्त किए जाएंगे। परीक्षा सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कराए जाने का पूरा प्रबंध किया गया है। 16 परीक्षा केंद्रों पर होने वाली परीक्षा अब 73 केंद्रों पर हो रही है।
प्रत्येक परीक्षार्थी के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए प्रत्येक परीक्षा-केंद्र पर परीक्षा-कक्षों तथा फर्नीचर इत्यादि को सेनेटाइज कराने की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। प्रत्येक परीक्षार्थी/कक्ष निरीक्षक एवं परीक्षा से सम्बंधित हर व्यक्ति का इंफ्रारेड थर्मामीटर द्वारा शारीरिक तापमान मापने के साथ ही मास्क लगाकर ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश देने की व्यवस्था की गई है। अभ्यर्थियों की सुरक्षा के दृष्टिगत प्रत्येक परीक्षा केंद्र में सेनिटाइजर, हैंड वाश आदि की पर्याप्त व्यवस्था की गयी है । प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर सेनेटाइजेशन की प्रक्रिया के पर्यवेक्षण के लिए एक विशेष अधिकारी की नियुक्ति की गई है जो इस कार्य के लिए उत्तरदायी होंगे ।
सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए परीक्षा केंद्र पर एक कमरे में 24 छात्रों की परीक्षा होगी। एक छात्र से दूसरे छात्र की दूरी आठ फुट तय की गई है। दो शिफ्टों के बीच में जो ब्रेक होगा, उसमें पूरा परीक्षा केंद्र सैनिटाइज होगा।
5. यह भी केंद्र व्यवस्थापकों को बताया कि सेंटर पर पहुंचे वाले अभ्यर्थी को यदि बुखार है तो उसे बिना परीक्षा दिए वापस न लौटाया जाए। उसके लिए अलग कमरे में परीक्षा कराई जाए। 
6. फेस डिटेक्टर से पकड़े जाएंगे फर्जी परीक्षार्थी
परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थियों को रोकने के लिए प्रशासन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस 'एआई' तकनीक का इस्तेमाल करेगा। सभी परीक्षा केन्द्रों पर एआई आधारित फेस डिटेक्शन सिस्टम लगवाए जाएंगे। इससे कोई फर्जी परीक्षार्थी केन्द्र के अंदर नहीं जा पाएगा। विवि प्रशासन के अनुसार एआई तकनीक अभ्यर्थी के चेहरे की कुल 27 जगहों की सूचनाओं को एकत्र करके उसको डिजिटल डाटा में बदलेगी, फिर फोर डाइमेंशन में चेहरे की जांच करेगी। इसमें अभ्यर्थी के बाल, चश्मा, आयु, लिंग आदि के जरिए उसका मिलान किया जाएगा। 
7.  परीक्षा के समय प्रत्येक अभ्यर्थी की पहचान के लिए डिस्पोजल स्ट्रिप से उसकी उंगुलियों के निशान भी लिए जाएंगे
8. प्रत्येक केन्द्र पर परीक्षार्थी के मोबाइल जमा कराने के लिए लिफाफे रखे जाएंगे। 
9. एग्जाम पैटर्न 
सभी प्रश्न ऑब्जेक्टिव होंगे। नेगेटिव मार्किंग होगी। सही उत्तर के लिए दो अंक और गलत उत्तर के लिए एक तिहाई अंक काटा जाएगा।
प्रवेश परीक्षा में दो प्रश्न पत्र होंगे।
पहले प्रश्न पत्र में सामान्य ज्ञान और भाषा के 50 - 50 प्रश्न होंगे। कुल 3 घंटे का पेपर होगा। 
10. राज्य की 16 यूनिवर्सिटी में बीएड कोर्स के लिए यह परीक्षा ली जाती है। इस बार किसी प्राइवेट कॉलेज और स्कूल को परीक्षा केंद्र के रूप में नहीं बनाया गया है। 

UP B.ED 2020 : यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा कल, परीक्षा सेंटर जाने से पहले पढ़ लें ये 10 सबसे जरूरी बातें Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master