UPTET 2020 : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा सहित अन्य पर असमंजस, नहीं भेजा गया प्रस्ताव

कोरोना संक्रमण से परीक्षाओं का शेड्यूल पटरी से उतर चुका है। तय समय पर होने वाले इम्तिहान न हो पाने से अन्य परीक्षाओं का प्रस्ताव भेजने की हिम्मत भर्ती संस्थान नहीं उठा रहे हैं। 2018 में उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी ) के लिए सितंबर माह से ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गए थे, जबकि 2020 यूपी टीईटी के लिए अब तक प्रस्ताव भेजा नहीं जा सका है। इतना ही नहीं डीएलएड 2020 में प्रवेश व सेमेस्टर परीक्षाओं के संबंध में शासन को भेजे प्रस्ताव का अब तक जवाब नहीं मिला है। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा यानी सीटेट वर्ष में दो बार होती रही है, हालांकि
जुलाई में प्रस्तावित परीक्षा टल चुकी है। उसकी नई तारीख भी अभी तय नहीं है। इसी तरह यूपी टीईटी वर्ष में एक बार ही होती आ रही है लेकिन, इस वर्ष परीक्षा को लेकर अभी कोई योजना नहीं बनाई जा सकी है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय उप्र प्रयागराज ने प्रस्ताव भी शासन को नहीं भेजा है। कहा जा रहा है कि इस माह के अंत तक इस पर चर्चा शुरू होने की तैयारी जरूर है। परीक्षा नियामक कार्यालय ने कुछ दिन पहले डीएलएड 2020 में प्रवेश के लिए प्रस्ताव है कि यह प्रक्रिया स्नातक का परिणाम आने के बाद शुरू की जाए। साथ ही लंबित सेमेस्टर परीक्षाओं भी मार्गदर्शन मांगा है। जिसमें मांग हो रही है कि 2018 तृतीय के प्रशिक्षुओं को प्रोन्‍्नत किया और चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा जाए। इस पर शासन से जवाब का इंतजार है।
Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | uptet help

UPTET 2020 : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा सहित अन्य पर असमंजस, नहीं भेजा गया प्रस्ताव Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master