• Breaking News

    B.ed 2020 : बीएड काउंसलिंग की तारीख एक महीने आगे बढ़ी, जानें- अब कब से होगी शुरुआत

     बीएड काउंसलिंग की तारीख एक महीने आगे बढ़ी, जानें- अब कब से होगी शुरुआत


    लखनऊ । BEd Joint Entrance Examination 2020 : संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड 2020 की काउंसलिंग को लेकर कई दिनों से चल रही उहापोह की स्थिति को लखनऊ विश्वविद्यालय ने शनिवार स्पष्ट कर दिया। अब काउंसलिंग प्रक्रिया 19 अक्टूबर से शुरू होगी। बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा कि राज्य समन्यवक प्रो अमिता बाजपेई ने बताया कि काउंसलिंग प्रक्रिया 19 अक्टूबर से शुरू होकर आठ नवंबर तक चलेगी।
    primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

    प्रो. बाजपेई ने बताया कि पहले काउंसलिंग प्रक्रिया 21 सितंबर से शुरू होनी थी, मगर तमाम अभ्यर्थियों की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं जारी होने के कारण अभी परिणाम आने शेष हैं। ऐसे में इन अभ्यर्थियों को ध्यान में रखते हुए बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 की काउंसलिंग की तारीख को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि 8 नवंबर को काउंसलिंग समाप्त होने के बाद 9 नवंबर से नए सत्र की शुरुआत की जाएगी। 


    उन्होंने बताया कि पूर्व की तरह इस बार भी काउंसलिंग शुल्क 750 रुपये ही रखी गई है। इस बार अभ्यर्थियों को ईडब्ल्यूएस सीटों पर भी प्रवेश दिया जाएगा। यह व्यवस्था केवल सरकारी और अनुदानित महाविद्यालयों में ही लागू होगी। साथ ही जिन अभ्यर्थियों को निजी शिक्षण संस्थानों में निशुल्क प्रवेश की सुविधा दी जाती थी वे इस वर्ष लागू नहीं होगी। प्रोफेसर बाजपेई ने बताया कि अभ्यर्थियों द्वारा ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के दौरान जो प्रमाण पत्र अपलोड किए गए हैं, उनकी मूल प्रति एवं अन्य मांगे गए सभी प्रपत्र एवं शुल्क हेतु निर्धारित धनराशि के साथ काउंसलिंग प्रक्रिया में शामिल हों, ताकि उन्हें किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े।





    लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा बीएड 2020 की काउंसलिंग अब 19 अक्टूबर से शुरू होगी। पहले यह काउंसलिंग 21 सितंबर से होनी थी।

    दरअसल, अभी भी कई संस्थानों में स्नातक अंतिम वर्ष का रिजल्ट जारी नहीं हुआ है जिसकी वजह से यह निर्णय लिया गया है। संयुक्त प्रवेश परीक्षा की समन्वयक प्रोफेसर अमिता बाजपेयी ने बताया कि अभ्यर्थियों के हित को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।


    काउंसलिंग प्रक्रिया 21 सितंबर के बजाय अब 19 अक्टूबर से शुरू होकर 8 नवंबर तक चलेगी। 9 नवंबर से बीएड का नया सत्र शुरू होगा। काउंसलिंग के बाद खाली रह गई सीटों को पूल काउंसलिंग के माध्यम से भरा जाएगा।

    उन्होंने अभ्यर्थियों को सलाह दी है कि अपने सभी प्रमाण पत्र तथा शुल्क की धनराशि पहले से ही तैयार रखें जिससे कि काउंसलिंग के दौरान उन्हें कोई असुविधा ना हो। बीएड काउंसलिंग में इस बार आर्थिक रूप से कमजोर तबके के अभ्यर्थियों को भी आरक्षण मिलेगा।

    हालांकि, यह आरक्षण केवल सरकारी एवं अनुदानित महाविद्यालयों में ही रहेगा। निजी शिक्षण संस्थानों में निशुल्क प्रवेश की सुविधा इस बार उपलब्ध नहीं होगी। करीब दो लाख सीट के लिए हुई प्रवेश परीक्षा में कुल 4,31,904 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। इसमें से 3,57,701 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए। बीएड प्रवेश परीक्षा का आयोजन 9 अगस्त को हुआ था। प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट 5 सितंबर को जारी किया गया था।