• Breaking News

    कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्र नहीं दे सकेंगे परीक्षा

    नई दिल्ली : जेईई मेंस परीक्षाओं के शुरू होने के साथ ही अब विश्वविद्यालयों सहित दूसरे शैक्षणिक संस्थानों की अटकी परीक्षाओं का भी रास्ता साफ हो गया है। शिक्षा मंत्रलय की पहल पर स्वास्थ्य मंत्रलय ने बुधवार को इसे लेकर विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।
    इन दिशा-निर्देशों के तहत कंटेनमेंट जोन में कोई भी परीक्षा केंद्र नहीं होगा। परीक्षा से जुड़ी सारी गतिविधियां कंटेनमेंट जोन के बाहर ही होंगी। साथ ही कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्रों को परीक्षाओं में शामिल होने की अनुमति नहीं होगी। ऐसे छात्रों को परीक्षा के लिए दूसरे विकल्प मुहैया कराए जाएंगे या फिर उनकी परीक्षाएं बाद में ली जाएंगी। कंटेनमेंट जोन में रहने वाले शिक्षक और कर्मचारियों को भी परीक्षा केंद्रों से अलग रखा जाएगा। कोरोना संकटकाल में परीक्षाएं कराना वैसे भी विश्वविद्यालयों सहित दूसरे शैक्षणिक संस्थानों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं हैं। हालांकि कोरोना संक्रमण के खतरे के चलते अब तक वह परीक्षाओं को टालते रहे हैं, लेकिन छात्रों के भविष्य और कोरोना संकट के फिलहाल जल्द न खत्म होने की आशंकाओं के चलते इन्हें कराना जरूरी हो गया है।