• Breaking News

    PRIMARY KA MASTER : जिले में बेसिक शिक्षा परिषद के 14 परिषदीय स्कूलों में 15 या इससे भी कम छात्र

    जिले में बेसिक शिक्षा परिषद के 14 ऐसे स्कूल हैं जहां बच्चों की संख्या 15 या इससे भी कम है। यू-डायस से प्राप्त 2018-19 सत्र के आंकड़ों पर केंद्र सरकार ने भी असंतोष जताया है। राज्य परियोजना निदेशक समग्र शिक्षा विजय किरन आनंद ने बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजकर नामांकन की स्थिति सुधारने के निर्देश दिए हैं।
    सबसे कम महज 5 छात्र नगर क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय राजापुर द्वितीय में थे। प्राथमिक विद्यालय बक्शी बाजार में 12, पुराना मम्फोर्डगंज में 10, धरहरिया में 11 व नेवादा में 15 छात्र थे। सर्वाधिक शंकरगढ़ में 6 ऐसे स्कूल हैं। प्राथमिक विद्यालय अमरपुर में 11, डोमहर में 14, नौबस्ता में 11 व हरखोरिया में 10 छात्र थे।

    उच्च प्राथमिक विद्यालय करिया खुर्द व नेवड़ियां शंकरगढ़ में क्रमश: 14-14 जबकि उच्च प्राथमिक विद्यालय उमरी कौडि़हार द्वितीय में 14, उच्च प्राथमिक विद्यालय पूरे जुराई हंडिया में 13 बच्चे थे। प्राथमिक विद्यालय लंगड़ी पट्टी में 15 बच्चे थे। यही नहीं कई प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालय एकल शिक्षक के भरोसे संचालित हैं। बीएसए संजय कुशवाहा का कहना है कि खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि नामांकन की स्थिति में सुधार लाएं।