• Breaking News

    Rojgar Updates : योग्य अभ्यर्थी नहीं मिलने से खाली रह गए पद, अब भर्ती का इंतजार,इन भर्ती परीक्षाओं में खाली पद

    प्रयागराज : योग्य अभ्यर्थी नहीं मिलने से उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की कई भर्तियों में पद नहीं भरे जा सके। खाली पदों को भरने के लिए नए सिरे से विज्ञापन निकालना होगा। लेकिन, विज्ञापन कब निकलेगा, उस पर असमंजस है, क्योंकि आयोग अभी पहले से तय भर्तियों को पूरी करवा रहा है। आयोग की कार्यप्रणाली को देखकर साफ नजर आ रहा है कि प्रतियोगियों को भर्ती के लिए महीनों इंतजार करना होगा।
    लोकसेवा आयोग ने जनवरी 2020 से अभी तक कई रिजल्ट जारी किया है, जिसमें योग्य अभ्यर्थी न मिलने से काफी पद खाली रह गया है। एलटी ग्रेड 2018, जेई, चिकित्साधिकारी, डेंटल सर्जन, डायट प्रवक्ता जैसे काफी पद खाली छोड़े गए हैं। जबकि हर भर्ती में अपेक्षा से काफी अधिक आवेदन हुए थे। कुछ भर्ती ऐसी थी जिसमें एक पद पर हजारों अभ्यर्थियों के बीच टक्कर थी। एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा 2018 उन्हीं परीक्षाओं में एक है। इसके 15 विषयों में 10,768 पदों की भर्ती निकली थी। लेकिन, परीक्षा में चार लाख से अधिक अभ्यर्थी शामिल हुए। आयोग ने 13 विषयों में 7480 पदों का रिजल्ट घोषित किया तो सिर्फ 4243 अभ्यर्थी ही सफल हुए। अंग्रेजी में एक, गणित में 600, विज्ञान में 961, कला में दो, कंप्यूटर में 1637, उर्दू में आठ, शारीरिक शिक्षा विषय में 28 पद खाली हैं। आयोग के सचिव जगदीश का कहना है कि जिन विभागों की भर्ती में पद खाली रह गए हैं। अब उन विभागों को अधियाचन भेजना होगा। अधियाचन आने पर आयोग विज्ञापन निकालकर भर्ती करवाएगा।

    ’ जेई-2013 सिविल अभियंत्रण में 1948 पदों के सापेक्ष 1485 अभ्यर्थियों का चयन हुआ। 480 पद खाली है।

    ’ राजकीय मेडिकल कॉलेजों में सहायक आचार्य स्किन एंड वीडी के 13 पदों की भर्ती में चार पद पर योग्य अभ्यर्थी नहीं मिले।

    ’ राजकीय मेडिकल कॉलेजों में सहायक आचार्य ह्यूमन मेटाबाल्जिम के तीन पद में सिर्फ एक का चयन हुआ।

    ’ अर्थ व संख्या निरीक्षक/सहायक विकास अधिकारी (नियोजन विभाग) के 373 पदों में सिर्फ 142 का चयन हुआ। इसमें 231 पद खाली है।

    ’ एलोपैथिक चिकित्साधिकारी श्रेणी-1 में 2354 पदों में 2043 पद ही भर पाए।

    ’ डेंटल सर्जन के 595 पदों की भर्ती में 535 का चयन हुआ। 60 पद खाली है।

    ’ एलोपैथिक चिकित्साधिकारी आरक्षित श्रेणी के 36 पदों में सिर्फ तीन पद भरे गए।

    ’ डायट प्रवक्ता उर्दू में 71 पदों में 66 पद ही भरे गए।

    ’ राजकीय मेडिकल कॉलेज के तहत सहायक आचार्य रेडियो डायग्नोसिस के 23 पदों पर योग्य अभ्यर्थियों के न मिलने पर उसे खाली छोड़ा गया है।