• Breaking News

    शिक्षक भर्ती में तीन हजार से अधिक पद खाली, नहीं मिल सके योग्य अभ्यर्थी

     प्रयागराज : 26 महीने की लंबी कवायद। प्रतियोगियों के आंदोलन के बाद एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा-2018 के सारे विषयों का रिजल्ट जारी हुआ। लेकिन, 3,520 खाली पदों की भर्ती को लेकर संशय है। परीक्षा में असफल अभ्यर्थी खाली पदों पर जल्द भर्ती की मांग उठाने लगे हैं। लेकिन, आयोग मौन है। भर्ती कौन और कैसे कराएगा? यह तय नहीं है। इससे खाली पद भरने का मामला लंबा खिंच सकता है।


    यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 2016 में मेरिट आधार पर 9300 से अधिक पदों की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती निकाली थी। सत्ता बदलने पर योगी सरकार ने लिखित परीक्षा कराने का निर्णय लिया। सीटें बढ़ाकर 15 विषयों में 10,768 कर दी गई। इसमें 7,63,317 आवेदन हुए। पिछले दिनों सारे विषयों का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण 3520 पद खाली रह गए हैं।

    माध्यमिक कालेजों के लिए कंप्यूटर विषय की परीक्षा पहली बार कराई गई। लेकिन, उसमें भी 1666 पद खाली रह गए। इसी प्रकार अंग्रेजी, विज्ञान, गणित, कला, शारीरिक शिक्षा जैसे विषयों में सैकड़ों पद खाली हैं। पहली परीक्षा में असफल अभ्यर्थी खाली पदों पर जल्द भर्ती चाहते हैं। इसको लेकर आयोग को कई बार ज्ञापन दे चुके हैं। लेकिन, आयोग ने उस पर कोई निर्णय नहीं लिया है। एलटी समर्थक मोर्चा के संयोजक विक्की खान का कहना है कि एलटी ग्रेड-2018 में खाली रह गए पदों में नया अधियाचन जोड़कर जल्द भर्ती निकाली जाए। इसके लिए लोकसेवा आयोग अध्यक्ष से मिलने का समय मांगा गया है।

    primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet