• Breaking News

    दिल्ली की आबादी जितने बच्चे हमारे बेसिक स्कूलों में: सीएम योगी

     लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूलों को लेकर दिल्‍ली और यूपी सरकार के मंत्रियों के बीच चल रहीं दावों और बयानों की जंग के बीच बिना किसी का नाम लिए शुक्रवार को कहा कि जितनी दिल्‍ली की कुल आबादी है, उतनेबच्चे हमारे प्राथमिक विद्यालयों में हैं। उनकी देखभाल गंभीरता से करना हमारी जिम्मेदारी है।मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को अपने आवास से 97,663 स्वयं सहायता समूहों और उनके संगठनों को 445.92 करोड़ रुपये की


    पूंजीकरण धनराशि आनलाइन हस्तांतरित की।योगी ने कहा कि स्कूली बच्चों केट्रेंस निर्माण में बहुत जिलों ने अच्छा काम किया है। खासकर प्रयागराज मेंएक महिला स्वयंसेवी समूह ने 17 हजार ड्रेंस तैयार किए हैं। उन्होंने कहाकि हमारे यहां बेसिक शिक्षा परिषद में 1.8 करोड़ बच्चे पढ़ते हैं। इन बच्चोंके लिए दो यूनिफार्म बनवाने के साथ सरकार स्वेटर भी दे रही है।उन्होंने कहा कि 200 से अधिकविकास खंडों में पोषाहार व्यवस्था महिला स्वयंसंवी समूहों को दी गई है। अब 821 विकास खंडों में इसकार्यक्रम को आगे बढ़ाएंगे। योगी नेमहिला स्वयं सहायता समूहों के कईउदाहरण भी दिए। गौ आधारित खेतीव एफपीओ गठन पर जोर दिया। साथही चीन पर निर्भरता खत्म करने कीबात कहीं। योगी ने महिला स्वयंसेवी समूह को मनरेगा से जोड़ने के लिए उनके साथ संवाद बनाकर काम करने के लिए प्रेरित करने केनिर्देश दिए। उन्होंने बीसी सखी,सामुदायिक शौचालय व राशन कीदुकानों में महिलाओं की भागीदारी परचर्चा को। मुख्यमंत्री ने स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी अनेक महिलाओं से आनलाइन वार्ता भी की। इस मौके पर महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदानकरने के लिए यूपीएसआरएलएमव आइसीआइसीओआइह फाउंडेशन के बीच एमआयू भी हुआ। ग्राम विकासमंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह मोती सिंहने ग्रामीण उत्थान में महिलाओं केयोगदान की सराहना की।