• Breaking News

    छात्र-छात्राओं को लेकर सीएम योगी का नया फैसला, जानिए नए साल पर योगी सरकार क्या हैं तैयारियां

     नर्सिंग एवं पैरामेडिकल के डिग्री व डिप्लोमा कोर्सों की कक्षाएं शुरू कराने के निर्णय के बाद राज्य सरकार अब एमबीबीएस एवं बीडीएस की कक्षाएं भी शुरू कराने की तैयारी में लग गई है। इसके तहत अगले महीने के पहले सप्ताह से एमबीबीएस व बीडीएस की कक्षाएं कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए शुरू की जाएंगी।  राज्य सरकार ने इसके लिए प्रदेश के सभी मेडिकल एवं डेंटल कालेजों से कोविड 19 से बचाव की तैयारियों की जानकारी मांगी है।


    Primary ka master, primary ka master current news, primaryrimarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

    साथ ही हॉस्टल, लाइब्रेरी व लेबोरेटरी आदि में सोशल डिस्टेंसिंग से जुड़ी गाइड लाइन की तैयारियों के बारे में भी सभी मेडिकल एवं डेंटल कालेजों से सूचनाएं मांगी गई है। इन जरूरी तैयारियों का जायजा लेने के बाद कक्षाओं के शुरू करने की तिथि तय की जा सके। बताया जाता है कि नर्सिंग एवं पैरामेडिकल की भांति एमबीबीएस एवं बीडीएस की कक्षाओं में शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं को भी कक्षा में शामिल होने के लिए अपने माता-पिता या अभिभावक की सहमति पत्र लाना भी अनिवार्य होगा। 

    साथ ही मेडिकल कालेजों को कक्षाएं शुरू होने से पहले सभी कक्षाओं को पूरी तरह से सेनिटाइज करना अनिवार्य होगा जबकि शिक्षकों के साथ-साथ हर छात्र-छात्राओं को हॉस्टल, लैबोरेटरी तथा एकेडिमिक ब्लाकों में सेशोल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा। प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था एवं छात्रों को आरोग्य सेतु ऐप को मोबाइल में डाउन लोड करना भी जरूरी होगा।सरकार ने बुधवार को नर्सिंग एवं पैरामेडिकल के डिग्री व डिप्लोमा कोर्सों की कक्षाएं कुछ शर्तों के साथ शुरू करने की अनुमति दे दी है।

    इसके तहत प्रदेश में नर्सिंग एवं पैरामेडिकल के डिग्री एवं डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के छात्र-छात्राओं की ऑफलाइन कक्षाएं निर्धरित की गई तिथियों से शुरू की जाएंगी। इसमें बीएससी नर्सिंग की कक्षाएं तथा पैरामेडिकल डिग्री प्रशिक्षण 8 दिसम्बर से शुरू होंगे जबकि एमएससी नर्सिंग की कक्षाएं एवं पैरामेडिकल डिप्लोमा प्रशिक्षण (फार्मेसी सहित) 11 दिसम्बर से शुरू होंगी। वहीं पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग की कक्षाएं 14 दिसम्बर से प्रारम्भ होंगी जबकि जीएनएम तथा एएनएम की कक्षाएं 17 दिसम्बर से प्रारम्भ की जाएंगी।