• Breaking News

    पारस्परिक स्थानांतरण को एक लाख रुपये मांग रहा परिषदीय शिक्षक

     बदायूं : शासन के निर्देश पर परिषदीय विद्यालयों में शिक्षकों के पारस्परिक स्थानांतरण चल रहे हैं। अन्य जिले से बदायूं आने के लिए आवेदन करने वाले एक शिक्षक ने जिले के परिषदीय विद्यालय में कार्यरत शिक्षक पर पारस्परिक स्थानांतरण के एवज में एक लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत बीएसए से कर कार्रवाई की मांग की है।


    जिला सम्भल के ब्लाक गुन्नौर के प्राथमिक विद्यालय नवीन में वजहुल कमर वर्ष 2014 से तैनात हैं। वह ककराला के निवासी हैं। पारस्परिक स्थानांतरण शुरू हुए तो वह खुश थे कि अपने जिले में आ सकेंगे। बदायूं के इस्लामनगर के एक परिषदीय शिक्षक ने भी पारस्परिक स्थानांतरण के लिए आवेदन किया। वह गुन्नौर के निवासी हैं। दोनों शिक्षकों ने आपसी सहमति के बाद पारस्परिक स्थानांतरण को आवेदन किया। गुन्नौर में कार्यरत बदायूं निवासी शिक्षक ने बताया कि बेसिक शिक्षा सचिव से जारी स्थानांतरण सूची में दोनों शिक्षकों का नाम था। आरोप है कि जब उन्होंने बदायूं में कार्यरत शिक्षक से बीएसए कार्यालय में संबंधित फाइलें जमा करने को कहा तो शिक्षक ने एक लाख रुपये की मांग की। रुपये न देने पर विद्यालय से रिलीव न होने और पारस्परिक स्थानांतरण न कराने की बात कही। जबकि उन्होंने स्थानांतरण के लिए सम्भल जिले के बीएसए कार्यालय में अपनी फाइलें जमा कर दी हैं। अब दूसरे शिक्षक के फाइल जमा करने और रिलीविग लेटर जमा होने पर ही स्थानांतरण की बात कही जा रही है। शिकायत के साथ उन्होंने पारस्परिक स्थानांतरण का आपसी सहमति शपथ पत्र, बदायूं के शिक्षक का भरा गया रजिस्ट्रेशन व आवेदन व शपथ और सूची जारी की है। 

    शिक्षकों के पारस्परिक स्थानांतरण में दोनों शिक्षकों की सहमति आवश्यक है। कोई शिक्षक नहीं जाना चाहता तो दबाव नहीं डाला जा सकता। मामले की जांच कर कार्रवाई करेंगे।
    - जयप्रकाश, प्रभारी बीएसए


     Primary ka master, primary ka master current news, Primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet