• Breaking News

    आंगनबाड़ी, शिक्षामित्र समेत बीएलओ भी कराएंगे चुनाव

     श्रावस्ती। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव जिले में पहले चरण में ही होना है। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। चुनाव कराने के लिए कुल 6424 कर्मियों की आवश्यकता है। लेकिन जिले . में चतुर्थ श्रेणी व पीठासीन अधिकारियों की कमी होने के कारण मंडलीय पूल से कर्मचारियों की मांग की गई है।



    त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का बिगुल जिले में बज चुका है। प्रशासन पूरी तरीके से चुनावी मोड में आ गया है। इसके लिए जहां सेक्टर, जोनल व पीठासीन अधिकारियों की तैनाती व प्रशिक्षण प्रक्रिया प्रारंभ होने वाली है। वहीं कर्मचारियों की कमी इस पूरी प्रक्रिया में रोड़ा बन कर खड़ी है। देखा जाए तो जिले के 1338 बूथों के लिए यदि रिजर्व के 20 प्रतिशत कर्मचारियों को जोड़ लिया जाए तो प्रत्येक बूथ पर चार कर्मियों की तैनाती की जानी है ऐसे में जिले में कुल 6424 कार्मिकों की आवश्यकता है। इसमें सेक्टर जोनल, सुपर जोनल व स्टेटिक अधिकारियों की संख्या नहीं जुड़ी है। इसके साथ ही कुछ ऐसे भी कर्मचारी हैं जो चुनाव प्रक्रिया के संचालन में लगे होंगे जिसके चलते वह मतदान केंद्रों पर ड्यूटी नहीं करेंगे। ऐसे में जिले में पीठासीन व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की संख्या कम होने के कारण उन्हें मंडलीय पूल से मांगा गया है। ताकि जिले में प्रथम चरण में चुनाव संपन्न हो सके।

    संविदा कर्मी व बीएलओ भी करेंगे चुनाव में ड्यूटी

    पंचायत चुनाव में इस बार संविदा कर्मियों की भी ड्यूटी लगाई जानी है। इसमें आंगनबाड़ी, शिक्षामित्र व बीएलओ के रूप में कार्यरत सफाई कर्मी व अन्य लोग भी शामिल किए गए हैं। यह निर्णय कर्मियों की कमी को देखते हुए आयोग ने लिया है।


    जिले में कर्मियों की कमी है। इसको देखते हुए मंडलीय पूल से कर्मियों की मांग की गई है। जल्द ही इसका निर्देश प्राप्त हो जाएगा। -ईशान प्रताप सिंह, सीडीओ


    छह से प्रारंभ होगा प्रशिक्षण

    जिले में चुनाव प्रथम चरण में होना है। इसके लिए कार्मिकों का छह अप्रैल से दस अप्रैल के बीच प्रशिक्षण प्रारंभ होगा।

    Primary ka master, primary ka master current news, Primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet