• Breaking News

    कोरोना काल में शिक्षक और छात्र बने योद्धा : केंद्रीय शिक्षा मंत्री

     नई दिल्ली: जागरण जोश की ओर से 25 मार्च को आयोजित एजुकेशन अवार्ड, 2021 के कार्यक्रम में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल (निशंक) बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। कोरोना वायरस महामारी के कारण इस अवार्ड कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअल मोड में किया गया। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि दर्जनों देशों की जनसंख्या से अधिक हमारे देश में छात्रों की संख्या है। महामारी के इस संकट के दौर में हमारे देश के शिक्षकों सहित छात्रों ने योद्धा के रूप में कार्य किया। महामारी के दौर में छात्रों व शिक्षकों ने सहजता, शालीनता का परिचय देते हुए पूरा धैर्य रखा।


    शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमने महामारी में भी नीट आदि बड़ी-बड़ी परीक्षाएं सहित अंतिम वर्ष की परीक्षाएं सफलतापूर्वक आयोजित कीं। इस विषम परिस्थिति में भी शिक्षकों व अभिभावकों ने अद्भुत क्षमता दिखाई, वो दुनिया के लिए उदाहरण है। शिक्षा मंत्री ने छात्रों की सराहना करते हुए आगे कहा कि महामारी संकट के दौर में जब लोग घरों में कैद हो गए थे तो छात्रों ने न सिर्फ अपने परिवार की मदद की, बल्कि उन्होंने अपने पड़ोसियों सहयोग किया। छात्रों, शिक्षकों व अभिभावकों ने इस चुनौती भरे वातावरण का मुकाबला किया, वो पूरी दुनिया के लिए उदाहरण है। बता दें कि इस पुरस्कार कार्यक्रम का उद्देश्य उन एजुकेशनल लीडर्स और टीचर्स के प्रयासों को स्वीकार करते हुए उनकी सराहना करना है, जिन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण लॉकडाउन के दौरान शिक्षा में उत्कृष्टता प्रदर्शित की।


    Primary ka master, primary ka master current news, Primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet