• Breaking News

    खुशखबरी : एनआईटी के लिए 12वीं में 75% जरूरी नहीं, HRD मंत्री ने नियमों में दी ये बड़ी छूट


    इस साल कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से पढ़ाई का बहुत नुकसान हुआ है। इससे उबरने के लिए तरह-तरह के उपाय अपनाए जा रहे हैं। हाल ही में यूपी, सीबीएसई और आईसीएसई ने छात्र-छात्राओं का बोझ कम करने के लिए 30 फीसदी तक कोर्स कम किया है। अब इसी तरह एनआईटी और देश के अन्य सभी केंद्रीय सहायता प्राप्त तकनीकी संस्थानों में दाखिले के नियमों बड़ी राहत दी है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय (HRD Ministry) ने घोषणा की है कि इस साल जेईई मेन (JEE Main) में सफल होने वाले उम्मीदवारों को इन संस्थानों में एडमिशन पाने के लिए कक्षा 12वीं में सिर्फ पास होना जरूरी होगा। जेईई मेन रैंक के अलावा सिर्फ 12वीं का पास सर्टिफिकेट जरूरी होगा। इसके लिए 12वींं में 75 फीसदी अंकोंं की बाध्यता नहीं रहेगी।
     केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से पैदा हुए हालातों को देखते हुए एनआईटी और केंद्रीय वित्त पोषित तकनीकी संस्थानों में प्रवेश के लिए राहत दी गई है।बता दें कि अभी तक एनआईटी और अन्य केंद्रीय वित्त पोषित तकनीकी संस्थानों में प्रवेश के लिए जेईई-मेन को उत्तीर्ण करने के अलावा, योग्यता 12 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं में न्यूनतम 75 प्रतिशत अंक अनिवार्य होते थे लेकिन इस साल के लिए नियमों में राहत दी गई है। 

    गौरतलब है कि देश भर में मार्च में फैली महामारी कोरोना वायरस की वजह से स्कूल-कॉलेज सहित शैक्षणिक संस्थान बंद चल रहे हैं। हालांकि इसके विकल्प के तौर पर ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित कराई जा रही हैं।
    Primary ka master | basic shiksha news | updatemart | basic shiksha | up basic news | basic shiksha parishad | basic news | primarykamaster| uptet primary ka master | update mart | Primary ka master com