• Breaking News

    Basic Shiksha : बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में पढ़ाई की गुणवत्ता में सुधार के लिए दस सूत्री कार्यक्रम तैयार, सभी स्कूलों में होंगे पुस्तकालय

    लखनऊ। प्रदेश के परिषदीय स्कूलों में पढ़ाई का स्तर सुधारने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने दस सूत्री कार्यक्रम किया है। इसमें शिक्षकों को सरलता से पढ़ाने और बच्चों में आसान तरीके से सीखने की क्षमता विकसित करने समेत अन्य कार्यक्रम शामिल किए गए हैं। एक से दो महोने में इसे सभी स्कूलों में लागू किया जाएगा। बेसिक शिक्षा महानिदेशक विजय किरण आनंद ने बताया कि सभी स्कूलों को राज्य स्तर से शैक्षणक सामग्री उपलब्ध कराई
    जाएगी। इसके लिए 200 से ज्यादा वीडियो भी तैयार कराए गए हैं। इनके जरिए शिक्षक क्लासरूम्स को जीवंत एवं रोचक बना सकेंगे। उन्होंने दावा किया है कि इससे परिषदीय स्कूलों को बदली हुई तस्वीर देखने को मिलेगी। उन्होंने बताया कि कक्षा 1-3 में भाषा एवं गणित पर जोर दिया जाएगा। शिक्षकों को गणित के लिए एनसीईआरटी द्वारा विकसित मैथ्स किट का प्रयोग कर पढ़ाने का प्रशिक्षण अक्तुबर में दिया जाएगा। अच्छी- अच्छी कहानियों और कविताओं को समाहित कर रीडिंग बुक्स भी तैयार की जा रही है। पोस्टर्स, मैथ्स किट, टीचर लनिंग मैटेरियल आदि के रूप में विकसित की गई रोचक शैक्षणिक सामग्री भी उपलब्ध कराई जाएगी। बच्चों के रियल टाइम लर्निंग आउटकम की मॉनिटरिंग के लिए प्रेरणा तालिका, प्रेरणा सूची, प्रेरणा लक्ष्य को कक्षा कक्ष की दीवालों पर चस्पा किया जाएगा। शिक्षकों की उपलब्ध्ता के आधार पर एकरूप शैक्षिक पंचांग एवं साप्ताहिक समय सारिणी भी दी जाएगी। स्टूडेंट्स असेसमेंट टेस्ट 2 के रिपोर्ट कार्ड भी अगस्त में दिए जाएंगे। 

    सभी स्कूलों में होंगे पुस्तकालय 
    सभी परिषदीय स्कूलों में पुस्तकालय विकसित किए जाएंगे। इनमें आगामी सप्ताह में एनसीईआरटी की ओर से उपलब्ध कराई जाने बाली पुस्तकें भी मुहैया कराई जाएंगी।