New Education Policy 2020 : 5वीं कक्षा तक प्राइवेट स्कूलों में भी अंग्रेजी माध्यम बंद एवं पहली व दूसरी कक्षा में बच्चों को खेल

नई दिल्ली. केंद्रीय मानव संसाधन सचिव अमित खरे ने स्पष्ट किया कि नई शिक्षा नीति में पांचवीं तक अंग्रेजी मीडियम बंद करने का फैसला प्राइवेट स्कूलों पर भी लागू होगा। पत्रकार' के साथ विशेष बातचीत में खरे ने इस नीति से संबंधित उलझनों को) दूर किया।

नई शिक्षा नीति का आम छात्रों और अभिभावक पर क्या प्रभाव होगा?

जवाब : पहली क्लास से पहले स्कूल-पूर्व शिक्षा पर भी ध्यान दिया जाएगा। अभी जो व्यवस्था है कि साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स की व्यवस्था है, वह खत्म हो जाएगी। अभी अगर 3 साल की डिग्री है और किसी कारणवश पौने तीन साल में पढ़ाई छोड़नी पड़ी तो कुछ नहीं मिलता। लेकिन अब मल्टीपल एंट्री-एक्जिट की व्यवस्था होगी। क्या अब स्कूल की पढ़ाई पूरी करने में 15 साल लगेंगे?
जवाब : नई नीति के निर्धारण के लिए बनाई गई समिति की अध्यक्षता कस्तूरीरंगन कर रहे थे। देश और विदेश के कई विशेषज्ञों को शामिल किया गया था। सभी का कहना है कि बच्चों की सीखने की शक्ति का विकास शुरुआती 5 से 8 साल में सबसे ज्यादा होता है, इसलिए अब पहली क्लास से भी पहले तीन वर्ष की प्री स्कूल की पढ़ाई शामिल की गई है। इस दौरान और पहली व दूसरी क्लास में बच्चों को खेल-खेल में ही सब कुछ सिखाया जाएगा।

New Education Policy 2020 : 5वीं कक्षा तक प्राइवेट स्कूलों में भी अंग्रेजी माध्यम बंद एवं पहली व दूसरी कक्षा में बच्चों को खेल Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Primary ka Master