• Breaking News

    Primary Ka Master : परिषदीय स्कूली बच्चों में गणित-विज्ञान का डर भगाने के लिए 30-30 स्टेज प्रोग्राम

    छात्र छात्राओं में गणित व विज्ञान का डर दूर करने के लिए यू-ट्यूब चैनल पर अच्छी जानकारियां मिलेंगी। हर रविवार शाम चार बजे से एक घंटे तक चलने वाले प्रोग्राम का प्रसारण 30 सप्ताह तक होगा। इसका नामभी 30-30 स्टेम रखा गया है।
    राज्य परियोजना निदेशक व महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने भेजे पत्र में कहा है कि 16 अगस्त से हर रविवार को ऑनलाइन साप्ताहिक कार्यक्रम शुरू हो गया है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के साथ सेंटर फॉर क्रिएटिव लर्निंग, आईआईटी गांधीनगर और आईआईएसईआर पुणे ने मिलकर यह प्रोग्राम शुरू किया है। पत्र में कहा गया है कि हर रविवार को आने वाले कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य गणित और विज्ञान विषय के सैद्धान्तिक समझ को बढ़ावा देना है। कहा गया है कि मानव विकास संसाधन मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने इस प्रोग्राम के लिए ट्वीट कर लांच किया है। कक्षा छह से 12 तक के छात्र-छात्राओं के अलावा शिक्षकों अभिभावकों के लिए यह महत्वपूर्ण बताया गया है। जिला समन्वयक प्रशिक्षण महावीर ने बताया कि बीएसए ऑफिस में पत्र आ चुका है। शिक्षकों और बच्चों को लाइव प्रोग्राम के दौरान प्रश्न पूछने और उत्तर देने की व्यवस्था भी रहेगी। सीबीएसई भी इसमें शामिल है। समय पर शामिल न होने वाले रिकार्डिंग यू-ट्यूब पर देखा जा सकता है।

    यूट्यूब चैनल पर अच्छी जानकारियां मिलेंगी
    हर रविवार शाम चार बजे से 30 सप्ताह तक चलेगा यू-ट्यूब चैनल पर कक्षा छह से 12 तक के छात्र-छात्राएं ऑनलाइन ले सकेंगे फायदा

    ऑनलाइन शिक्षा सफल बनाएं: डायरेक्टर
    बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ. सर्वेद्र विक्रम बहादुर सिंह ने सभी बीएसए को जारी किए पत्र में कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से शैक्षिक सत्र 2020 21 की कक्षाएं स्कूलों में नहीं लग रही हैं, इस वजह से शिक्षण कार्य गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है। छात्र-छात्राओं के लिए ऑनलाइन शिक्षण की वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। पता लगा है कि इसमें भी काफी दिक्कतें आ रही हैं। निदेशक ने हेड टीचर, शिक्षक, अभिभावकों व छात्र-छात्राओं अधिकारियों के लिए कई निर्देश दिए हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर पर डिजीटल एजूकेशन एवं शिक्षकों को मानसिक रूप से तैयार रहने के लिए प्रधानमंत्री ई-विद्या प्रोग्राम के लिए राष्ट्रीय पहल हुई है। यह प्रक्रिया सरल करने को कहा गया है।