• Breaking News

    UP Board : अब पढ़ाई की निगरानी भी यूपी बोर्ड के जिम्मे, यह दायित्व सौंपा गया

    प्रयागराज : पाठ्यक्रम तैयार करने और हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा लेने वाले यूपी बोर्ड को अब पढ़ाई की निगरानी का भी जिम्मा सौंपा गया है। वचरुअल स्कूल व ई-ज्ञान गंगा के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई कराई जाएगी। इसकी साप्ताहिक रिपोर्ट मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक की ओर से बोर्ड सचिव को भेजी जाएगी। सचिव इसका पर्यवेक्षण करेंगे।
    प्रयागराज बोर्ड मुख्यालय पर शनिवार को सचिव दिव्यकांत शुक्ल ने पत्रकारों को बताया कि इस संबंध में सभी जिलों को निर्देश जारी कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि जुलाई में पाठ्यक्रम का माहवार विभाजन करके 13 अगस्त को उसे जारी किया गया है। छात्र-छात्रओं को समय से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले इसका ध्यान रखकर कक्षा 9 से 12 तक 30 प्रतिशत पाठ्यक्रम कम किया गया है।

    उसे वेबसाइट पर अपलोड कराया गया, ताकि शिक्षकों को भी सहूलियत मिले। सचिव ने बताया कि पहली बार वचरुअल स्कूल के आधार पर कक्षा 9 व 11 के लिए स्वयंप्रभा चैनल-22 पर और कक्षा 10 व 12 के लिए दूरदर्शन के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षण कराया जा रहा है। सचिव ने बताया कि पढ़ाई 18 अगस्त से शुरू हो गई है। विभिन्न कक्षाओं में ऑनलाइन व ऑफलाइन माध्यम से 31 जनवरी 2021 तक इसे पूरा किया जाएगा। इसके बाद फरवरी के तीसरे व चौथे सप्ताह में पहली बार 10वीं व 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाएं कराई जाएंगी।

    दिव्यकांत शुक्ल

    यूपी बोर्ड सचिव

    ’ वचरुअल स्कूल व ई-ज्ञान गंगा के जरिए पठन-पाठन की जेडी देंगे रिपोर्ट

    यह दायित्व भी सौंपा गया

    ’ छात्रों के मूल्यांकन के लिए प्रश्न बैंक तैयार करना

    ’ छात्रों का मूल्यांकन कराना

    ’ पाठ्य पुस्तकों की सभी जिलों में उपलब्धता कराना।